Sunday, July 21, 2024
HomeNewsमानव संसाधन को बेतहर कर्मचारी विकसित करने पर ध्यान देना चाहिए

मानव संसाधन को बेतहर कर्मचारी विकसित करने पर ध्यान देना चाहिए

चंडीगढ़। मानव संसाधन को एक मजबूत कर्मचारी अनुभव विकसित करने पर ध्यान केंद्रित करना चाहिए,जहां व्यक्ति अपना सर्वश्रेष्ठ योगदान देने के लिए मूल्यवान, प्रेरित और सशक्त महसूस करें। उक्त विचार पीएचडी चैंबर ऑफ कामर्स एंड इंडस्ट्री द्वारा आयोजित चौथे उत्कृष्ठता सम्मान एवं एचआर कान्क्लेव के दौरान पीएचडीसीसीआई चंडीगढ़ चेप्टर के अध्यक्ष मधसूदन विग ने व्यक्त किए। इस अवसर पर बोलते हुए प्रेमास लाइफ साइंसेज के एमडी प्रवीण गुप्ता ने उद्योगों की उभरती जरूरतों को पूरा करने के लिए मानव संसाधन के महत्व पर दृष्टिकोण साझा करते हुए कहा कि मानव संसाधन प्रथाओं को फिर से आकार देने के लिए नवीन दृष्टिकोण और रणनीतियों की जरूरत है।
रजनीश सिंह, अध्यक्ष, एचआर कॉन्क्लेव 2024 और मैनेजिंग पार्टनर, सिंपली ग्रुप ने नए सामान्य को अपनाने और भविष्य के लिए एचआर प्रथाओं की पुनर्कल्पना करने में एचआर पेशेवरों द्वारा सामना की जाने वाली विभिन्न चुनौतियों और अवसरों पर प्रकाश डाला। प्रतिभा प्रबंधन पर सत्र का संचालन करते हुए, महिंद्रा एंड महिंद्रा के एचआर और ईआर प्रमुख,अरुण राघव ने एक मजबूत नियोक्ता ब्रांड बनाने और शीर्ष प्रतिभाओं को आकर्षित करने के कर्मचारी अनुभव पर प्रकाश डाला।
मानव संसाधन में प्रौद्योगिकी की भूमिका सत्र के दौरान एचसीएलटेक के एवीपी, मानव संसाधन,प्रवीण खत्री ने उल्लेख किया कि प्रौद्योगिकी अब संगठन के लिए एक विलासिता नहीं है, बल्कि एक आवश्यकता बन गई है। पीएचडी चैंबर ऑफ कॉमर्स एंड इंडस्ट्री द्वारा सिंपली ग्रुप के सहयोग से आयोजित किए गए उत्कृष्टता मान्यता पुरस्कार के लिए 100 से अधिक एचआर टीमों ने अपना नामांकन जमा किया। जिसमें से जूरी ने विभिन्न श्रेणियों में सर्वोत्तम प्रथाओं के लिए 15 एचआर टीमों को सम्मानित किया। इस अवसर पर पीएचडीसीसीआई के डीएसजी नवीन सेठ ने आए हुए अतिथियों का आभार व्यक्त करते हुए कहा कि एचआर किसी भी संगठन की रीढ़ है और इस आयोजन में एचआर पेशेवरों की गहन प्रतिक्रिया देखकर खुशी हो रही है।

RELATED ARTICLES

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

- Advertisment -
Google search engine

Most Popular

Recent Comments