Sunday, July 21, 2024
HomeNewsतीन दिवसीय सतलुज एमयूएन सांस्कृतिक कार्यक्रम के उपरांत संपन्न

तीन दिवसीय सतलुज एमयूएन सांस्कृतिक कार्यक्रम के उपरांत संपन्न

पंचकूला (संवाद टाइम्स)। सतलुज ग्रुप ऑफ स्कूल्स (हरियाणा, पंजाब, हिमाचल प्रदेश, जम्मू और कश्मीर) द्वारा सेक्टर 4 स्थित स्कूल परिसर में पहला सतलुज पब्लिक स्कूल मॉडल यूनाइटेड नेशंस – 2024 सांस्कृतिक कार्यक्रम के उपरांत संपन्न हो गया। 5 से 7 जुलाई तक चले इस प्रतिष्ठित कार्यक्रम में ट्राइसिटी के सभी प्रमुख स्कूलों के कक्षा 6 से 12 तक के 3000 से अधिक विद्यार्थियों ने हिस्सा लिया। सतलुज ग्रुप ऑफ स्कूल्स के प्रबंध निदेशक रीक्रीत सेराय ने जानकारी देते हुए कहा कि पहले एसपीएसएमयूएन कार्यक्रम ने हमारे छात्रों को पब्लिक स्पीकिंग, क्रिटिकल थिंकिंग और डिप्लोमेसी में अपने कौशल को प्रदर्शित करने और बढ़ाने के लिए एक असाधारण मंच प्रदान किया। उन्होंने कहा कि एसपीएसएमयूएन इस क्षेत्र में सबसे बड़े मॉडल यूनाइटेड नेशंस कांफ्रेन्सेस में से एक है, जिसमें शीर्ष स्कूलों के प्रतिभागी बच्चे शामिल हुए। इस आयोजन ने न केवल शैक्षिक विकास प्रदान किया, बल्कि हमारे भावी नेताओं को चमकने का एक मंच भी प्रदान किया।
उन्होंने कहा कि यहां बच्चों की भागीदारी एक अकादमिक अभ्यास से कहीं अधिक है, यह एक बेहतर दुनिया के निर्माण की दिशा में एक कदम है। जिससे विद्यार्थियों का उत्साह इन दीवारों से कहीं आगे तक गूंजेगा। उन्होंने कहा कि हम सभी को मिलकर शांति, विकास और मानवीय गरिमा को बढ़ावा देने की आवश्यकता है क्योंकि बच्चों से हर एक में असाधारण प्रभाव डालने की क्षमता होती है। इसने छात्रों को संयुक्त राष्ट्र के कामकाज का अनुकरण करने का एक अनूठा अवसर प्रदान किया। प्रतिभागियों ने विभिन्न देशों के प्रतिनिधियों के रूप में काम किया और संरचित प्रारूप में वैश्विक मुद्दों पर की। इस कार्यक्रम में भाग लेने वाले प्रमुख स्कूलों में विवेक हाई स्कूल चंडीगढ़, सेंट जॉन्स हाई स्कूल चंडीगढ़, कार्मेल कॉन्वेंट स्कूल चंडीगढ़, भवन विद्यालय चंडीगढ़ और स्ट्रॉबेरी फील्ड्स हाई स्कूल शामिल थे। तीन दिनों तक चली इस प्रतियोगिता में बहस के कई दौर चले, जिसमें प्रतिनिधियों ने अपने कठोर शोध, तीक्ष्ण विश्लेषणात्मक कौशल और स्पष्ट तर्कों का प्रदर्शन किया।
इनमें मुख्य रूप से महिला स्थिति आयोग, अखिल भारतीय राजनीतिक दलों की बैठक, विश्व स्वास्थ्य संगठन (डब्ल्यूएचओ), यूनिसेफ, संयुक्त राष्ट्र महासभा, संयुक्त राष्ट्र सुरक्षा परिषद और संयुक्त राष्ट्र मानवाधिकार परिषद से संबंधित मुद्दे शामिल थे। छात्रों को संयुक्त राष्ट्र से जुड़े कई देशों का प्रतिनिधित्व करके सार्वजनिक भाषण कौशल को बढ़ाने, आलोचनात्मक सोच विकसित करने, बातचीत और कूटनीति कौशल में सुधार करने, विचारोत्तेजक चर्चाओं में शामिल होने और अनुभवी शिक्षकों से सीखने का अवसर मिला, क्योंकि समितियों की अध्यक्षता अनुभवी कार्यकारी बोर्ड के सदस्यों द्वारा की गई थी, जिन्होंने पूरे सम्मेलन में मार्गदर्शन प्रदान किया। वहीं पुरस्कारों में शामिल हैं: बेस्ट डेलिगेट, हाई कमेंडेशन और स्पेशल मेंशन्स। उद्घाटन और समापन समारोह में रॉक शो, भांगड़ा फ्यूजन और पॉप डांस जैसे रोमांचक सांस्कृतिक कार्यक्रम हुए। सोशल इवनिंग में क्षेत्र के जाने-माने डीजे ने छात्रों के लिए प्रस्तुति दी, जिसके बाद एक शानदार रात्रिभोज का आयोजन किया गया।
स्टूडेंट्स सेक्रेटेरिएट में शामिल थे: उदय – सेक्रेटरी जनरल, सहज – डिप्टी सेक्रेटरी जनरल,पंखुड़ी प्रेसिडेंट,संयम – डायरेक्टर जनरल, ईशान – चीफ ऑफ स्टाफ और गौतम – कन्वेनर, एमयूएन कॉर्डिनेटर द्वारा मार्गदर्शन किया गया। उद्घाटन और समापन समारोह में स्कूल प्रबंधन सदस्य को-चेयर/डायरेक्टर प्रिंसिपल कृत सेराय, मैनेजिंग डायरेक्टर रीकृत सेराय, को-चेयर/ डायरेक्टर प्रिंसिपल गुर सेराय, को-प्रिंसिपल मधुरिमा सेराय और राधिका पणिक्कर सेराय उपस्थित थे।

RELATED ARTICLES

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

- Advertisment -
Google search engine

Most Popular

Recent Comments